जानकारी

योगी आदित्यनाथ जानकारी – Yogi Adityanath in Hindi

Yogi Adityanath Information in Hindi

योगी आदित्यनाथ जो की उत्तर प्रदेश के वर्तमान मुख्यमत्री है. योगी आदित्यनाथ जिनका वास्तविक (योगी आदित्यनाथ का पूरा नाम) नाम अजय सिहं बिष्ट है. इनका जन्म 5 जून 1972 में उत्तराखंड के पंचुल गांव में हुआ था. इनके पिता का नाम आनंद सिंह बिष्ट था और ये चार भाई व तीन बहनो है. इसके गुरु का नाम महंत अवैद्यनाथी है.

उन्होने 2017 में प्रदेश के विधान सभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की बड़ी जीत के बाद यहां के 21 वें मुख्यमंत्री बने. योगी जी गोरखपुर मन्दिर के पुर्व उपराधिकारी थे. इन पर कई जानलेवा हमले भी हुए परन्तु योगी जी बच गए. योगी जी कट्टर हिन्दु है परन्तु योगी जी सब धर्मो का सम्मान करते है.

योगी जी अन्याय के बहुत खिलाफ है. अगर उनके नगर में कोई भी अपराध करता है तो उसे स्वतंत्र घुमने नही दिया जाता उसे सजा जरूर मिलती है. कोरोना काल में भी मुख्यमंत्री होने के नाते उन्होने लोकडाउन के दौरान जनता के लिए कई सुविधाएँ उपल्बंध करवाई जैसे गरीबो को मुफ्त राशन और गरीबो के खाते में पैसे डलवाना इतना ही नही बल्कि योगी जी ने फोन कर कई मजदुर लोगो से बात कर उनके हाल चाल भी पुछे और इनको यह सूविधा (मुफ्त राशन और खाते में पैसे ) मिली या नही उन्होने लोकडाउन के दोरान अपनी जनता का पुरा ख्याल रखा. आज भारतीय जनता उन्हे भविष्य में प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहती है.

आदित्य नाथ योगी बहुत सेवाभावी व्यक्ति है. वे हिंदुत्व वादी है अपने धर्म का पुर्ण रूप से पालन करते है. योगी आदित्यनाथ अपनी कट्ठर राजनिती के लिए भी प्रसिद्ध है परन्तु ये सभी धर्मो का संमान करते है और कभी दिखावा नहीं करते. इनका कथन है कि ” एक हाथ मे माला और दुसरे हाथ में भाला ! मतलब एक हाथ में माला अर्थात भक्ति करना ,यहा भक्ति का तात्पर्य बेवजह किसी का बुरा ना करना हिंसा ना करना, पाप ना करना और सबका भला करना है ओर एक हाथ में भाला इससे तात्पर्य है कि यदि कोई देश में या हमारे साथ बुरा करे तो उसे भी छोड़ना भी नही वो कहते है ना अपने किसी से आगे हो कर पंगा करने का नही और जो हमसे करे उसे छोड़ने का भी नही. बस इसी तरह योगी आदित्य नाथ जी के रहते शहर में अपराधीयों की खैर नही.

उनका राजनिती में सफर बचपन से हि रहा है अर्थात बहुत समय पहले से हि योगी जी राजनिति में अपने पैर जमाए हुए है. योगी जी पर कई दंगे और गिरप्तारी के आरोप भी है. एक मोहर्रम के दोरान हुए दंगे में योगी जी को गिरप्तार किया गया था , योगी जी पर कई अपराधिक मामले दर्ज है इन पर हत्या का भी आरोप है तथा कई खतरनाक हथियार अपने पास रखने का भी आरोप है. योगी जी पर 2005 मे लोगो के धर्म परिवर्तन करने का भी आरोप लगा था कि ईसाई धर्म के लोगो का धर्म परिवर्तन कर उन्हे हिंदु धर्म में शामिल करने का प्रयास कर रहे है. योगी जी ने 1800 इसाई लोगो का धर्म परिवर्तन कर उन्हे हिंदु धर्म में शामिल किया गया ऐसा बोलै जाता है. आज मुख्यमंत्री के पद पर आने से पहले उन्होने कई समस्या का सामना किया है.

योगी जी नाथ सम्प्रदाय से ताल्लुक रखते है. उन्होने मुख्यमंत्री बनते हि अर्थात दुसरे दिन हि बड़ा फैसला लिया कि उत्तरप्रदेश में लड़कियों को छेड़ने वाले के खिलाफ एक “ऐंटी रोमियो स्काड नाम कि टीम का गठन किया और यह टीम लखनऊ के ग्यारह जिलों में तैनात की गई जो लडकी को छेड़ने वाले को सबक सिखाएगी और यह टीम लखनऊ के सभी विद्यालयों और विश्व विद्यालयों के बाहर तैनात रहेगी. योगी जी स्वयं एक पुजारी और गौ सेवक है उन्होने मुख्यमंत्री बनते हि आदेश दिया कि राज्य में होने वाले गाय कि तस्करी पर जल्द कार्यवाही करे और उन्होने यह कहा कि पुलिस को इस मामले में आवश्यकता अनुसार सख्ती बरतने कि छुट है.

योगी आदित्य नाथ ने B.J.P. के चुनाव घोषणा पत्र में दिए गए अवैध कसाईखानों को बंद करवाने पर सबसे पहले दावा बोला उन्होने फैसला लिया कि किसी भी सरकारी कार्यलय में किसी भी कर्मचारी को पान या तम्बाकु खाने कि इजाजत नही है. सरकारी कार्यलयों के साथ यह फैसला स्कुल , कोलेजो में लागु होता है. उन्होने योग के लिए भी निर्देश दिए और जो लोग सुर्य नमस्कार नही करते उनका विरोध किया. उन्होने कहा कि जो लोग सूर्य नमस्कार नही करते उन्होने देश मे रहने का कोई अधिकार नही है तथा सूर्य में भी हिन्दु – मुस्लिम करने वालो को डुब मर जाना चाहिए. आज आदित्य नाथ योगी जी हिंदुओ के लोकप्रिय नेता है. अलग अलग राज्य के लोगो द्धारा भी उनकी प्रशंसा कि जा रही है. उन्होने उत्तर प्रदेश में भी कई कानुन बनाए है जो कि वहा कि जनता के हित में है.

योगी जी किसी भी धर्म के साथ भेदभाव नही करते है उनके लिए देश कि जनता अपने परिवार समान है. आदित्य नाथ योगी जी का अयोध्या के राम मंदिर के पूर्ण निर्माण में भी बड़ा योगदान है. उन्होने कई गैर सरकारी कर्मचारीयों को भी नोकरी से निकलवाया उनका कहना है कि हमें किसी भी विषय में बिना जाने बिना सोचे समझे गैर जरूरी बयान ना दे. उत्तर प्रदेश कि जनता योगी जी का बहुत सम्मान और उन्हे बहुत प्रेम करती है.

इंटरनेट पर सब से ज्यादा योगी आदित्यनाथ के बारे में क्या सर्च किया जाता है ?

योगी आदित्यनाथ की पत्नी का फोटो / योगी आदित्यनाथ की पत्नी का नाम

आप को बताना चाहता हु, योगी आदित्यनाथ की शादी नही हुई है, और न उनकी कोई प्रेमिका थी !

और पढ़े –

सरदार भगत सिंह जीवन परिचय

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button