Uncategorized

सड़क सुरक्षा पर निबंध – Sadak Suraksha par Nibandh Hindi

Road Safety Essay in Hindi

सड़क सुरक्षा आज एक महत्पूर्ण विषय बन गया है, क्योकि वर्तमान में एक दिन में देशभर में लाखों सड़क दुर्घटना होती है और उसे सामान्य तरीके से नजरअंदाज भी कर दिया जाता है. आज युवा वर्ग के लोगो के लिए सड़क सुरक्षा के नियम का पालन करना बहुत जरूरी है. सड़क दुर्घटना कई तरीके से होती है जैसे- शराब पीकर वाहन चलाना,हाईवे पर तेज गती से गाड़ी चलाने, बिना सही से सिखें कम उम्र में गाड़ी चलाना,बाइक पर तीन से अधिक सवार होना.

सड़क सुरक्षा दिन कब मनाया जाता है (Road Safety Day Week) ?

सड़क सुरक्षा हफ्ता January 11 to January 17 तक मनाया जाता है.

युवा वर्ग वाहन चलाते समय अधिक लापरवाहि बरतते है. सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन अगर हर नागरीक ईमानदारी से करे तो देश में सड़क दुर्घटना को पुरी तरह से समाप्त कर दिया जा सकता है. सड़क सुरक्षा को कड़ी से कडी करने के लिए यातायात के कुछ नियम लागू करने होगे जिसका पालन हर नागरिक करे. कई नागरिको को यातायात के नियम का ज्ञात नही होता है फिर भी कुछ लोग मुख्य सड़क पर गाड़ी चलाने लग जाते है. (Sadak suraksha jeevan raksha)

सड़क सुरक्षा के लिए सावधनिया (रोड सेफ्टी – Road Safety)

1) सर्वप्रथम हमें यातायात के नियमो और सुरक्षा के बारे में बच्चो को विद्यालय में हि सिखाने कि व्यवस्था करनी चाहिए. ताकि वे बचपन से पढते आने के कारण उन्हे यातायात के नियमो का पुरा ज्ञान हो.
2) वाहन चलाते समय कभी जल्दबाजी ना करे सड़क नियमो का पालन करे.
3) पैदल चलते समय जैब्रा (Zebra Line) लाइन को प्रयोग करे अर्थात फुटपाथ का प्रयोग करे और हमेंशा बाएँ और से चलना चाहिएँ.
4) कभी भी रेड सिग्नल पर सड़क पार करने कि कोशिश ना करे, हमेंशा ग्रीन सिग्नल हि रोड़ को पार करे.
5) कभी भी चलते वाहन से ना उतरे चाहे उसकी गती धीमी हि क्यों ना हो हमेशा वाहन के पुरी तरह से रूकने पर हि वाहन से उतरे.
6) कभी भी शराब पीकर (Drink and Drive) वाहन न चलाए उससे केवल खतरा स्वयं को हि नही बल्कि किसी और कि जिन्दगी को भी खतरा हो सकता है.
7) कभी कभी जरा सा स्वास्थ्य बिगडने पर भी हम वाहन चला लेते है ऐसा कभी ना करे आपको नुकसान हो सकता है.
8) बच्चो के हाथ में कभी वाहन ना दे जब तक कि वो पुरी तरह से ना सिख जाए.
9) हर शहर में और कई जगहो पर वाहन चलाना सिखने के लिए बड़ा मैदान बनवाना चाहिए, ताकि सिखने वालों के लिए कोई खतरा ना हो.

सड़क हादसों के मुख्य कारण (Sadak hadaso ka karan)

1) सडक हादसो का मुख्य कारण सर्वप्रथम यह है कि लोग शराब पीकर वाहन चलाते है जिससे कई बार दूसरो कि जिन्दगी खतरे में डाल देते है.
2) कई बार युवा पिढ़ी जोश में वाहन चलाते है जो उनके लिए भी नुकसानदायक है.
3) कई बार लोग यातायात के नियमों का पालन नही करते है जिससे वे दुर्घटना के शिकार भी होते है और उस दुर्घटना का कारण भी बनते है.
4) लोगो का कई बार सिग्नल का पालन न करना भी हादसे का कारण बनता है.
5) कई बार यातायात पुलिस क्रमचारियों का रिश्वत लेना भी इन सब हादसों को बढ़ावा देता है.
6) कई बार यातायात क्रमचारियो का ध्यान न देना भी हादसो का कारणबनाता है.
7) आजकल लोग का कानों में ईयरफोन पहन कर बात करते -2 वाहन चलाना भी सड़क हादसे का मुख्य कारण है.
8) सड़क पर छोटे बडे गढ्ढे होने से भी सड़क हादसा होता है.

सड़क सुरक्षा से जुड़ी चुनोतियां

1) सर्वप्रथम सड़क कि स्थिति ठिक ना होना हमारे सड़क सुरक्षा के लिए चुनोति है.
2) वाहन चलाते समय जल्दबादी करना नियमों को अनदेखा कर देना.
3) जगह-जगह सड़क पर गढ्ढा होना.
4) कई बार बीच रास्ते में पशुओं का आना जिससे पशुओ को बचाने के चक्कर में हादसे का शिकार होना.
5) लोगो का वाहन चलाते समय मोबाइल फोन में बात करना.
6) कई जगहो सड़को पर लाइट का ना होना.
7) सरकार द्धारा बार-बार सड़क निर्माण के बाद पाइपलाइन के लिए सड़को खोदना भी एक चुनोति है.

सड़क सुरक्षा के निवारक

सड़क दुर्घटना से बचने के लिए हमें कई महत्वपुर्ण बाते अपनानी होगी जो की निन्तलिखित है

1) वाहन चलाते समय हमेशा सीट बेल्ट (Seat Belt) पहनना चाहिए.
2) वाहन चलाते समय हमेशा हेलमेट (Helmet) लगाना चाहिए.
3) हमेशा यातायात के नियमों का पालन करना चाहिए.
4) कभी भी सिग्नल ना तोडे.
5) वाहन को सामान्य गति से हि चलाएँ कभी जल्दबाजी ना करना.
6 ) वाहन चलाते समय कभी भी मोबाईल फोन पर बाते न करे.
7) वाहन चलाते समय हमें सहज रहना चाहिए कभी दिखावे के लिए वाहन चलाते समय कोई हरकते ना करे.
8) वाहन को घुमाते समय हमेशा चारो और ध्यान रख कर वाहन कि गती धिमि करके हि वाहन को मोड़े.
9) यातायात के नियम का बोर्ड हर एक किलोमिटर कि दुरी पर लगाना चाहिए ताकि कोई अनदेखा ना कर पाएँ और नियम का उल्खन ना करे.
10) वाहन चलाते समय किसी भी प्रकार का कोई नशा नही करना चाहिए.
11) यदि किसी का स्वास्थ्य ठिक नही है तो उसे वाहन चलाने ना दिया जाए.
12) कभी भी गलत दिशा में गाड़ी ना चलाएँ.
13) वाहन चलाना सिखने के लिए किसी खुले मैदान में जाएँ.

सड़क सुरक्षा हम सब कि जिम्मेदारी है और इसके नियमों का पालन करना हमारा कर्तव्य है. यदि हम सारे नियमों का पालन ईमानदारी से करेंगें तो कई हद तक हम सड़क दुर्घटना को रोक सकते है. बच्चो को भी यातयात कि शिक्षा देना अनिवार्य है. जिससे वे हमेंशा अपने ध्यान में रंखगे यातायात नियम और देश भी जाकरूक होगा जब बचपन से हमारी शिक्षा में शामिल कर दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button